Skip to main content

Safe Driving Tips For Four Wheelers- Road Safety Tips

By SSF | Sunday, March 18th, 2018 Road Safety No Comments

चाहे पैदल यात्री हों या वाहन चालक, सड़क संबंधी नियमों का पालन सभी के लिए बेहद ज़रूरी है, ताकि आकस्मिक दुर्घटनाओं से बचा जा सके. ऐसे में ज़रूरी है कि आप न स़िर्फ रोड सेफ्टी रूल्स के बारे में जानें, बल्कि इनका पालन भी करें.

भारत में हर साल 1,46,377 लोग सड़क दुर्घटनाओं में मारे जाते हैं और 4,80,652 लोग गंभीर रूप से घायल होते हैं.

अगर आंकड़ों की बात करें, तो भारत में हर छह मिनट में एक मौत सड़क दुर्घटना में होती है और वर्ष 2020 तक यह आंकड़ा हो जाएगा- हर 3 मिनट में एक मौत.

यह आंकड़े भी स़िर्फ उन दुर्घटनाओं के हैं, जिनके बारे में रिकॉर्ड रहता है, जबकि ग्रामीण इलाकों में कई दुर्घटनाओं के बारे में पता तक नहीं चलता, जिसका सीधा-सीधा मतलब यह है कि सही आंकड़े इससे कहीं अधिक गंभीर हो सकते हैं.

आईये जानते हैं कुछ जरुरी टिप्स जो लोग फोर व्हीलर गाड़ी चलाते हैं- क्या करें?

Road Safety Tips

– सीट बेल्ट्स हमेशा बांधें. अगर साथ में कोई है, तो उसे भी कहें बेल्ट बांधने को.

– 4 साल तक के बच्चों के लिए चाइल्ड सीट का ही प्रयोग करें.

– ट्रैफिक सिग्नल्स को कभी भी अनदेखा न करें, बेवजह हॉर्न न बजाएं.

– वाहन की रफ़्तार से संबंधित नियमों को कभी न तोड़ें और कभी भी गाड़ी ६० km/h से ज्यादा ना चलायें चाहे रोड एकदम खाली ही क्यों न हो.

– पैदल चलनेवालों को पहले रोड क्रॉस करने दें.

– एमर्जेंसी गाड़ियां, जैसे- एंबुलेंस या फायर ब्रिगेड को पहले जाने दें.

– लेन बदलते व़क्त हमेशा इंडिकेटर्स और रियर व्यू मिरर्स का प्रयोग करें.

– चौराहे पर हमेशा गाड़ी की रफ़्तार कम कर दें, कभी भी यह सोचकर गाड़ी न चलाएं कि आप किसी प्रतियोगिता में हिस्सा ले रहे हैं और सड़क के बाकी लोग आपके प्रतियोगी हैं, जिनसे आपको आगे निकलना है.

– आगे वाली गाड़ी से हमेशा सुरक्षित दूरी बनाकर रखें और ३ सेकंड रूल को फॉलो करें.

– हमेशा अपनी लेन में ही गाड़ी चलाएं. ओवरटेक के चक्कर में लेन तोड़ने की कोशिश न करें.

– मोबाइल का उपयोग बिलकुल भी न करें, अगर बात करना ही है तो आप गाड़ी साइड में खड़ी कर के ही करें यही सोचें कि जान से ज़्यादा क़ीमती कुछ भी नहीं – दुर्घटना से देर भली.

Tags: , , , , , , , , , , ,
Category:Road Safety No Comments

Leave a Reply